Active And Passive Voice In Hindi – एक्टिव पैसिव वौइस् Voice Grammar

Active And Passive Voice In Hindi – एक्टिव पैसिव वौइस् Voice Grammar

हेल्लो, दोस्तों कल के पोस्ट में मैंने आपको Tense chart in hindi बताया था. आज के आर्टिकल में में आपको active voice and passive voice की concept क्लेर करूँगा. इंग्लिश ग्रामर में active के साथ passive का भी use होता है. लेकिन हम 95% से भी ज्यादा sentence एक्टिव में बनाते है. तो चलिए में आपको इनके बारे में समझाता हूँ. ताकि आप समझ सके.

active and passive voice in Hindi

Active Voice rules

एक्टिव सेंटेंस में subject यानि कर्ता ऑब्जेक्ट के ऊपर एक्शन कर्ता है. और generally हम इसीका ज्यादा उपयोग करते है. और जब हम किसी भी टेंस का एक्टिव sentence बनाते है. तो सबसे पहले Subject आता है. मेरा कहने का मतलब है, वाक्य की सुरुवात कर्ता से होती है. निचे इसका बेसिक फार्मूला दिया है.

S+V+O

Example:-

  1. Ram eats a mango. – राम आम खाता है.
  2. I drink water. में पानी पिता हूँ.

Passive Voice:-

मैंने आपको पहले ही कह दिया, हम day toady life एक्टिव वाईस का use 95% से भी ज्यादा करते है. और हम passive voice का कभी कभी use करते. अगर हम किसी भी टेंस में passive का sentence बनाते है. तो इस प्रकार में वाक्य की सुरवात object यानि वस्तु से होती है. निचे इसका बेसिक फार्मूला बताया गया है.

O+V by + S

जरुर पढ़िए:-

Example:-

  1. Mango eats by Ram. – राम द्वारा आम खाया जाता है.
  2. water drink by me:- मेरे द्वारा पानी पिया जाता है.

Note:-

  1. मैंने आपको सिर्फ समझाने के लिए, यह बेसिक फार्मूला बताये है. लेकिन असल में 12 टेंस के लिये active और passive के formula अलग-अलग है. मैंने सारे formula टेंस चार्ट में दिए है.
  2. go और come ऐसे कुछ verb के लिए passive का sentense बनता नहीं.
  3. Continues future tense , continues perfect preset tense, , continues perfect past tense, continues perfect future tense में passive vice का sentense क्रिएट नहीं होता.
  4. सभी टेंस का पैसिव बनाने के लिए verb का third form (V-III) use होता है.

Last Word:-

तो चलिए मित्रो मैंने आज आपको active  और passive voice क्या है. और कुछ rules बता दिए. में उम्मीद कर्ता हूँ आपको आजकी पोस्ट काफी अछि लगी हो.

 

About Rushikesh Sonawane

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम Rushikesh Sonawane है. और मे jankaribook.com का founder हूँ. और मेने इस ब्लॉग को other blogger की help करने लिये बनाया है. वैसे तो मेरा nature काफी फ्रेंडली है. पर में ब्लॉग्गिंग को लेकर में काफी serious हूँ. blogging सिर्फ मेरी hobby नहीं, बल्कि मेरा जुनून है. And I always live for my passion... और जाने..

Leave a Comment