On-Page SEO Kya Hai Content Ko On Page SEO Se Fully Optimize kaise kare

अगर आप अपने blogpost को high rank दिलाना चाहते है. तो आजकी पोस्ट आपके लिये काफी शानदार रहने वाली है. क्योंकि, में आज on-page seo क्या है? के बारे में guide करने वाला हूँ. देखिये दोस्तों हर blogger को अगर अपने करियर में success होना चाहते हो. तो उसके ब्लॉग पर organic visitor होने चाहिये. और अपने सभी post को high rank देना चाहते है. तो on-page optimization techniques को समझाना होगा.और ठीक से apply करना होगा.

on-page seo kya hai

देखिये, दोस्तों पहले एक जमाना था. जब बिना seo करे. हमारे blog posts search result में ऊपर show होते थे. लेकिन आज के समय में इतना competition बढ़ गया है. किसी भी new website को rank करना काफी मुश्किल हुआ है. पर नामुनकिन नहीं. अगर आप अपने website को google के first page पर लाना चाहते हो. तो, यह on-page optimization technique ध्यान से पढिये.

On-page SEO क्या है?

on page optimization is nothing but the technique to optimize single-single webpages of website. मेरे कहने on-page एक seo का ही हिस्सा है. जिसका  इस्तेमाल करके हमें हमारे ब्लॉग के पोस्ट को search engine के according optimize करना पड़ता है. जिसका benefit हमें search engine result में अछि position के तोर पर मिलता है.

on- page seo techniques in hindi

  1.  Title tag:- Title वो हिस्सा होता है. जो search engine result में सबसे ऊपर show होता है. शीर्षक लिखने के दो तरीके है. पहला search engine के rules के according और दूसरा visitor को ध्यान में रखते हुए .By the optimization rule में आपको यही suggest करूँगा. की अपने title को हमेशा 50-55 character के बिच में रखो. ताकि वो search engine result में ठीक से appeasers हो. दूसरा तरीका है. अपने visitor को attract करने के लिये एक unique शीर्षक दे. ये method तब काम आती है. जब हमारी पोस्ट पहले page पर तो है. पर first position पर नहीं. जैसे 3rd या 4th पर. तो ऐसे में अगर visitors को पहले वाले को छोड़कर अपनी तरफ attract करना है. तो title भी genuine होना चाहिये. इसके लिये ज्यादा कुछ नहीं बस अपने title में famous words ad करो. For example:- top, latest, updated, 100% working, With proof etc.On-page optimization
  2. SEO friendly URL:- दोस्तों, URL on-page SEO में काफी important factor है. Google और user दोनों ugly URL को पसंद नहीं करते. जितना हो सके उतना URL को short रखे. और focus keyword का भी beginning में use करे.URL optimzation in on-page seo
  3. Use focus keyword under 100 words of first paragraph:-  दोस्तों, जितना हो सके अपने पहले paragraph में focus keyword को जल्दी use करने की कोशिश करे. क्योंकि, google हमारे first paragraph का कुछ हिस्सा description के रूप में select करता है. और उसपर rank depend करता है. पर ये तभी होगा. जब हम उस focus keyword को जल्दी use करेंगे.Focus keyword
  4. Use images:- मैंने SEO के ऊपर बहोत सारे article लिखे है. और सबमे यही कहा है. एक image एक हजार शब्द के बराबर होती है. इसीलिए अपने post में images का इस्तेमाल करना कभी ना भूले. इस्से आपके article की quality बढ़ जाती है. सीधे शब्द में कहे तो, हमारा article user friendly बनाता है. और google user friendly article को ही high rank पर show करता है. Images लगाने का एक और फायदा है. जैसे मान लिजिये. अगर हमारे site पर other country से visitors आते है. और उन्हें हमारे content की language समझ नहीं आती. तो भी वो images के सहारे post को follow कर सकते है.
  5. Alt Tag:- New bloggers हमेशा यह गलती कर देते है. वो अपने article में image का तो इस्तेमाल करते है. लेकिन, image की SEO करना भूल जाते है. देखिये basically, होता क्या है. की हमारे webpages को crawl करने का काम robots करते है. वो तो human तो है नहीं. इसीलिए वो हमारे content को कभी read नहीं करते. वो सिर्फ coding language को समझते है. तो इसीलिए हमे हमारे images को alt tag लगाकर ,Blogger image को seo friendly बनाना पड़ता है. ताकि वो हमारे media को समझ सके. और अगर हम इस step को drop करते है. तो google-bots हमारे images को blank समझकर आगे बढ़ता है. जिस्से हमें इमेज लगाने का benefit मिलता.
  6. Using proper headings:- दोस्तों, Google user friendly article को ज्यादा महत्व देता है. और बिना heading use किये. कभी article user फ्रेंडली नहीं बनेगा. पर headings इस्तेमाल करने के भी कुछ नियम है. सबसे पहले तो ये बात को जानले. की जो हम title रखते है. वही by default हमारा <h1> टैग बन जाता है. इसीलिये दोबारा post में <h1> tag देने की जरुरत नहीं. आप चाहे <h2> से लेकर <h6> तक use कर सकते है. क्योंकि, google ने साफ़ कहi. की, एक article एक से ज्यादा <h1> tag नहीं हो सकते. इसीलिए एक बार title देने के बाद <h2> से शूरवात करे.
  7. Link building:-  backlinks जैसे off-page SEO में जरुरी है. ठीक उसी प्रकार on-page seo में link building करना काफी जरुरी है. फर्क सिर्फ इतना है. की off-page में high quality backlinks बनाकर website की moz Domain Authority और PA बढाती है. लेकिन post में सही तरिकेसके inbound and outbound link ad करने से हमारा content user को सही navigate करता है. जिस्से google भी पसंद करता है. और visitor एक page से दूसरे pages में जाते है. जिससे हमारे blog की traffic बढ़ती है. मैंने internal linking के फायदे. इस article में details में बताया है. बड़ी-बड़ी website भी internal link ad करने में कभी नहीं भूलते. उदाहरन के लिये आप Wikipedia का यह screenshot देख सकते है.Internal linking in page seo
  8. Post description:- दोस्तों! post description on-page seo में काफी important  part है. जैसे 3 घंटे के मूवी में क्या है. ये महज 3 minute के ट्रेलर से पता चलता है. ठीक उसी प्रकार हमारे post में क्या है. इसके बारे में 163 शब्दों में विवरण लिखना. इसे ही post description कहते है. और इसके बारे में google को बताना काफी जरुरी है. क्योंकि google-bots हमारे content को analyse करने के लिये description की help लेता है. और साथ ही user को भी search result में show करता है. इसीलिये article write करने के बाद editor में डिस्क्रिप्शन का box होगा. और नहीं तो blogger की हर post में search description कैसे enable करे. इसके बारे में पढ़ सकते है. और अगर पहले है. Simple उसपर click करे. और अपने article बारे में focus keyword के साथ लिखिए.search description
  9. label:- blogger में एक label का option होता है. जिसे हम category भी कह सकते है. तो आपकी पोस्ट की category क्या है. उसके बारे में 2-3 label ad करे. आप चाहे तो focus keyword का भी इस्तेमाल कर सकते है.
  10. Write unique article:- At last दोस्तों में आपसे यही bonus tips share करूँगा. की आप हमेशा अपने content writing के ऊपर focus करो. क्योंकि आपने कही बार पढ़ा होगा. “Content is king”. जिस किसी ने भी इस word का इस्तेमाल पहेली बार किया होगा. उसने सही कहा है. माना की seo ब्लॉग को improve करने लिये काफी जरुरी है. और इसमे काफी सारे types भी है. लेकिन user को ध्यान में रखके एक unique content लिखा होगा. और search engine के लिये on-page seo को follow किया है. तो बाकि टेंशन लेने की जरुरत ही नहीं. Automatic हमारा content top position पर show होता है. हाँ पर website की reputation बढ़ाने के लिये of-page seo भी काफी जरुरी है.

Last word:-

मित्रो! मैंने आपको on-page seo के बारे में बताया. में आशा करता हूँ. आपको यह जानकारी काफी helpful लगी हो. अगर आप ऐसे ही blogging और seo के बारे में सिखाना चाहते है. तो हमारे ब्लॉग को जरुर follow करे. आप हमसे social media पर भी जुड़ सकते है.

Rushikesh Sonawane

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम Rushikesh Sonawane है. और मे jankaribook.com का founder हूँ. और मेने इस ब्लॉग को other blogger की help करने लिये बनाया है. वैसे तो मेरा nature काफी फ्रेंडली है. पर में ब्लॉग्गिंग को लेकर में काफी serious हूँ. blogging सिर्फ मेरी hobby नहीं, बल्कि मेरा जुनून है. And I always live for my passion... और जाने..

Leave a Comment