SEO क्या है? | SEO kya hai

SEO क्या है? | SEO kya hai

किसी भी डिजिटल मार्केटिंग करने वालो को पता होना चाहिए. SEO क्या है? तभी वो इंसान ऑनलाइन मार्केटिंग ठीक से कर पायेगा. मतलब, अगर वो कोई ऑनलाइन बिज़नेस करता हो. लिखे ब्लॉग्गिंग, इ-कॉमर्स वेबसाइट को चलता हो. तो उसे SEO kya hai? इसके बारे में पता ही होना चाहिए. तभी वो अपने करियर में सक्सेस होगा. क्योंकि सो का सम्भंद डायरेक्ट रैंकिंग पर आता है. जिसको इसके बारे में पता चला. वो सर्च इंजन में बादशाह बनेगा. एंड रैंकिंग का ताज पहनेगा.

SEO kya Hai
SEO

नये ब्लॉगर अपने ब्लॉग की traffic बढ़ाना चाहते हे. पर वह ये बात भी जानते होंगे. ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने SEO एक मात्रा तरीका है. इसीलिए वो सबसे पहले SEO सीखना पसंद करेंगे. इसीलिए में आज बिगिनर्स के लिए बताऊंगा. SEO क्या होता हे. Specially (search engine optimization) की जरूरत ब्लॉगर को रहती हे. क्योंकि, वो अपने ब्लॉग पर विजिटर लाना चाहता है. एंड ऑफ़ कोर्स हाई ट्रैफिक से इनकम करना चाहेगा. पर फ्रेंड्स उससे पहले आपको seo क्या है? सिखाना होगा.

SEO क्या है?

S.E.O. का लॉन्ग फॉर्म हे सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन. Actually एक ऐसा तरीका हे. जिसका इस्तेमाल करके हम हमारे वेबसाइट को हाई रैंक दिलवा सकते है. सर्च इंजन जैसे गूगल बिंग याहू एक अल्गोरिथम पर काम करते है. उसे ही सो कहते है. रोज हज़ारो लाखो वेबपेजेस गूगल को सबमिट किये जाते है. और same टॉपिक पर भी काफी वेब पेजेज पब्लिश किये जाते हे. पर अब किसको हाई रैंक दी जाये. इसीलिए SEO का अल्गोरिथम शुरू किया गया. विभिन्न सर्च इंजन के पास बड़े सुपर कंप्यूटर होते है. जिसे हम गूगलबोट्स स्पाइडर रोबोट्स कह सकते हे. इनमे वो अल्गोरिथम स्टोर किया हे. जिसके मदत से वो आसानी से क्रॉलिंग, इंडेक्सिंग का वर्क कर पते हे.

Developer और ब्लॉगर को इसी अल्गोरिथम को सीखना पड़ेगा. तभी वो अपने वेबसाइट को सर्च इंजन में हाई रैंक दे पाएंगे. फिलहाल आपको यही समझाना होगा. SEO (सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन) ऐसी तकनीक और प्रोसेस हे जिसका इस्तेमाल करके हम किसी भी वेब पेज और ब्लॉग को हाई रैंक दिलवा सकते हे. हमे सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन क्या होता है? और अप्लाई कैसे करे इसकी जानकारी रखनी होगी. फिर आपके ब्लॉग को टॉप पोजीशन हासिल करने से कोई नहीं रुख सकता.

Blog के लिये SEO क्यों जरुरी है?

I hope, आप SEO के बारे में ठीक से समझ गए होंगे. अब main मुद्दा हे की ब्लॉग के लिए सो करना क्यों जरुरी है. मैंने आपको ऊपर के पॉइंट में बताने की कोशिश की थी. खेर! फिर भी. आप तो जानते होंगे. इंटरनेट पर कितना competition हे. अगर आप कोई पोस्ट पब्लिश करते हो. तो इंटरनेट पहले से ही same टॉपिक पर बहोत सारे वेब पेजेज होते हे. और अगर हमे उन सको पीछे छोड़ना हो. मतलब सर्च रिजल्ट में no.1 की जगह चाहिए. तो SEO को follow करना पड़ेगा.अगर किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट को रैंक करना हो. तो सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन को फॉलो करना पड़ेगा. सो सुनने में सिर्फ तीन वर्ड है. पर इसे पुरा समझने में बहोत समय लगेगा

मेरे कहने का मतलब हे. सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में बहोत सारे टर्म्स एंड तकनीक हे. जिसे एक दिन में समझना नामुनकिन. पर डरने की कोई बात नहीं. आगे जाके सब धीरे-धीरे समझ आएगा. शुरवात में सबको कठिन ही लगता है. Basically सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के दो प्रकार है. एक है, on-page optimization and दूसरा of-page optimization.

  1. On-page SEO :-

    ON-page SEO यानि अपने ब्लॉग के सिंगल पेजेस को ऑप्टिमाइज़ करना. सिंगल पेजेस यानि हमारे ब्लॉग के पोस्ट. एक पोस्ट में जो भी कंटेंट लिखा जायेगा. उसे सर्च इंजन के According ऑप्टिमाइज़ करना. जैसे आर्टिकल में हैडिंग का use करना. सही फोकस कीवर्ड को चयन करके उसे अपने पोस्ट में ठीक से  प्लेस करना. इमेज को ऑल्ट टैग लगाके image को SEO friendly बनाना. और सबसे जरुरी यही होता है. की जो कीवर्ड सबसे ज्यादा सर्च होता है. उसे सेलेक्ट करना और अपने पोस्ट में टाइटल हैडिंग डिस्क्रिप्शन में उसे करना. जिसके कारण गूगल हमारे आर्टिकल को समझ पायेगा. आर्टिकल में किस पॉइंट को मेंशन किया है. इसके बारे में पता चलेगा. और वो हमे रैंक देगा. अगर आप on-page  के बारे सीखना चाहते हो. तो लिंक को फॉलो करे.

  2. Of-page SEO:-

    Of page SEO मे हमें वेबसाइट के बाहर काम करना पड़ेगा. मतलब ओन पेज से हमने सिर्फ पोस्ट को ऑप्टिमाइज़ किया. पर ऑफ़ पेज whole वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करना पड़ता हे. सिंपल इस टाइप में आपको अपनी साइट रेपुटेशन का ध्यान रखना पड़ेगा. जिसके लिए सोशल मीडिया पर प्रोफाइल बनाना. अपनी वेबसाइट को प्रमोट करना. दूसरे पॉपुलर ब्लॉग पर कमेंट करना. इससे हमारी रेपुटेशन अच्छी रहती है. एंड सर्च इंजन हमें वैल्यू देता है. और हमे रैंक भी देता हे. ऑफ-पेज ऑप्टिमाइजेशन में सबसे इम्पोर्टेन्ट होता हे बैकलिंक्स. हमारे साइट की लिंक किसी दूसरे साइट पर मौजूद होना. इसे ही backlink हते है. जिसके पास ज्यादा high quality backlink होंगे. उसे उतनी ही हाई रैंक दी जाएगी.

पर सबसे पहले हमें ओन पेज को अप्लाई करना पड़ेगा. क्योंकि सबसे पहले हम कंटेंट ही लिखते है. अगर कंटेंट ही हाई क्वालिटी का नहीं रहेगा. फिर रैंक क्या खाक मिलेगी? इसीलिए सबसे पहले आप अपने कंटेंट पर फोकस करो. उसे on-page seo को फॉलो करके लिखो. और फिर आप off-page optimization के बारे में सिख सकते है.

Last word:-

I hope friends, आप seo क्या है? समझ गए होंगे. अगर आपको फिर भी कोई सवाल हे. तो, निचे कमेंट करके पूछ सकते  है. में आपके सवाल का जवाब जरुर दूंगा. और अगर आपको s.e.o. के बारे और जानना हे. तो, हमारा विडियो भी देख सकते है. पर इसमे सिर्फ बेसिक जानकारी डी गयी हे.

SEO सीखने के लिये बेस्ट site:-

 

 

 

 

 

 

2 thoughts on “SEO क्या है? | SEO kya hai

Leave a Comment